आइस्पैल इंडिया मंच से हुआ काव्य और कहानी प्रवाह

www.daylife.page

जयपुर। इंडियन सोसाइटी फॉर प्रमोशन ऑफ इंग्लिश लैंग्वेज एंड लिटरेचर (आइस्पैल इंडिया) के मंच पर काव्य और कहानी पठन का अत्यधिक उत्कृष्ट कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस स्पेशल संडे साहित्यिक सतसंग मे वर्चुअल तरीके से जूम प्लेटफार्म पर डाॅ. जी ए घनश्याम, फाउंडर और जनरल सैकट्ररी, आइस्पैल और प्रोफेसर आफ इंगलिश, डायरेक्टरेट ऑफ हायर एजुकेशन, रायपुर, छतीसगढ ने प्रोग्राम की बेहतरीन शुरूआत की। 

डॉ. शालिनी यादव, प्रोफेसर, अंग्रेजी विभाग, कॉम्प्यूकॉम इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट, जयपुर ने कार्यक्रम संचालक के रूप में प्रोग्राम आगे बढाते हुए सभी कवियों और लेखकों का मंच पर हार्दिक स्वागत किया। डाॅ. मीनाक्षी राठौड़, हैड, अंग्रेजी विभाग, श्रीभवानी निकेतन महिला पीजी महाविद्यालय, जयपुर ने  सभी लेखकों और कवियों का परिचय देते हुए उन्हे मंच पर अपनी कविताएं और कहानियां सुनाने के लिए आमंत्रित किया।

कर्नाटक से डाॅ. बी सुशीला और डाॅ. ए एस पुवम्मा, तेलंगाना से बाछेवाल श्रीनिवास, हरियाणा से डाॅ. पूनम रानी, उतराखंड से आराधना शुक्ला और आंध्रप्रदेश से डाॅ. अदिति अभिशिक्ता ने विभिन्न विषयों पर आधारित कविताओं का पाठन किया जिसमें महिलावादी भाव और प्रकृति के प्रति सवेंदनशीलता और जागरूकता अहम रूप से नजर आई। वही महाराष्ट्र से डाॅ. मंगला तोमर, तमिलनाडू से डाॅ. एस जयंथी और दिल्ली से रेणुका श्याम नारायण ने अपनी कहानियों से सबका मन मोह लिया जो श्रोतागणों अति विशिष्ट मैसेज देते हुए पढी गई। अंततः डाॅ. शालिनी ने सबको धन्यवाद ज्ञापित किया और प्रोफेसर घनश्याम ने अतिविशिष्ट आशावादी पंक्तियां सुनाकर कार्यक्रम का समापन किया।