एयरपोर्ट ऑथोरिटी जयपुर एयपोर्ट पर स्टेट हैैंंगर के लिए आवंटित जमीन सुपुर्द करें : मुख्य सचिव आर्य

www.daylife.page

जयपुर। मुख्य सचिव राजस्थान निरंजन आर्य ने एयरपोर्ट ऑथोरिटी ऑफ इंडिया को जयपुर एयरपोर्ट पर स्टेट हैंगर के लिए आवंटित जमीन का शीघ्र कब्जा देने को कहा है। आर्य ने शासन सचिवालय में आयोजित बैठक में प्रदेश के सात शहरों में एयरपोर्ट विकास एवं विस्तार के लिए आवश्यक भूमि आवंटन करने के संबंध में विचार-विमर्श कर अधिकारियों को निर्देशित किया। 

मुख्य सचिव आर्य ने जयपुर एयरपोर्ट पर स्टेट हैंगर के लिए आवंटित जमीन का कब्जा शीघ्र देने के निर्देश दिए, जिस पर एयरपोर्ट ऑथोरिटी ने शीघ्र कार्यवाही कर जमीन सुपुर्द करने के लिए आश्वस्त किया। उन्होंने राज्य सरकार एवं एयरपोर्ट ऑथोरिटी के अधिकारियों को प्रवेश पास सहित अन्य मसलों पर आपसी समन्वय से कार्य करने के लिए निर्देशित किया।

मुख्य सचिव ने बीकानेर में नाल एयरपोर्ट को नजदीक की जमीन आवंटन के लिए वन भूमि के डायवर्जन का प्रस्ताव बनाकर भिजवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस जमीन के बदले में वन विभाग के लिए उपयुक्त भूमि चिन्हित करें। आर्य ने जोधपुर एयरपोर्ट के लिए आवश्यक वास्तविक जमीन का पुनः आकलन कर प्रस्ताव भिजवाने के निर्देश दिए। बाड़मेर जिला कलक्टर को उतरलाई एयरपोर्ट की भविष्य की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए भूमि आवंटन का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।

आर्य ने कोटा में ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट के लिए नगरीय विकास विभाग के स्तर पर निर्णय लेकर जल्द कार्यवाही करने के निर्देश दिए। साथ ही जरूरत होने पर वन विभाग से अनापत्ति प्राप्त करने और डायवर्जन करने के निर्देश दिए। उदयपुर एयरपोर्ट के विस्तार एवं किशनगढ़ एयरपोर्ट के रनवे विस्तार के तकनीकी पहलुओं पर चर्चा कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए।    

बैठक में प्रमुख शासन सचिव पर्यटन श्रीमती गायत्री राठौड़ एवं सिविल एविएशन विभाग के निदेशक राजेन्द्र सिंह शेखावत उपस्थित थे। राजस्व विभाग के प्रमुख शासन सचिव आनंद कुमार, एयरपोर्ट ऑथोरिटी ऑफ इंडिया एवं नगरीय विकास विभाग के अधिकारी तथा बीकानेर, जोधपुर, बाड़मेर, कोटा, जयपुर एवं अजमेर के जिला कलक्टर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक में शामिल हुए।